Breaking News

मैं अपराधी नहीं हु, बैंकों के पैसे लौटने के लिए तैयार हु- विजय माल्या

संकट में फंसे भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या ने अपनी बंद हो चुकी किंगफिशर एयरलाइन पर सार्वजनिक क्षेत्र के भारतीय बैंकों का 100 फीसदी बकाया लौटाने की अपनी पेशकश को फिर दोहराया है. विजय माल्या ने सोमवार को सोशल मीडिया पर जेट एयरवेज के ठप होने पर दुख जाहिर करते हुए यह पेशकश की.

दबाव में विजय माल्या

किंगफिशर एयरलाइंस के पूर्व प्रमुख 63 वर्षीय विजय माल्या फिलहाल को बैंकों के कर्ज में हेरीफेरी और मनी लॉन्ड्ररिंग जैसे आरोपों में भारतीय एजेंसियों को तलाश है. ये एजेंसियां उन पर भारत में कानूनी कार्रवाई के लिए ब्रिटेन के अधिकारियों से भगोड़ा घोषित इस व्यवसायी को भारत को सौंपने की मांग कर रही है जिसे वहां की सरकार ने मंजूरी दी दी है. माल्या प्रत्यर्पण के आदेश को अदालत में चुनौती दे रहे हैं.

दरअसल, माल्या पर 9,000 करोड़ रुपये के कर्ज की धोखाधड़ी तथा मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है. विजय माल्या ने ट्वीट करते हुए अपनी बंद हुई एयरलाइन और जेट एयरवेज के बीच तुलना की. नकदी संकट के बीच देश की प्रमुख एयरलाइन जेट एयरवेज फिलहाल खड़ी हो गई है. माल्या ने कहा कि किंगफिशर सहित कई भारतीय विमानन कंपनियां बंद हो गई हैं, जेट के ढहने की पूर्व में कोई सोच नहीं सकता था.

उन्होंने कहा कि यह सचमुच एक व्यावसायिक विफलता थी. लेकिन सीबीआई और ईडी ने मुझपर आपराधिक आरोप लगाए, जबकि मैंने 100 प्रतिशत लौटाने की पेशकश की है, सिर्फ मेरे साथ ऐसा क्यों किया गया.

माल्या ने कहा, ‘मैंने जेट के बंद होने पर टीवी बहस देखी, इनमें कंपनी के वे कर्मचारी शामिल थे जिनको वेतन नहीं मिला है और उद्योग के दिग्गज भी. बेरोजगारी, परेशानी, बैंकों के पास उपलब्ध प्रतिभूतियां क्योरिटी और पुनरोद्धार की संभावना महत्वपूर्ण मुद्दे हैं, मैं किंगफिशर के 100 प्रतिशत बकाया को चुकाने की पेशकश कर रहा हूं, लेकिन बैंक इसके लिए तैयार नहीं हैं.’

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

TIK-TOK के लिए बना रहे थे विडियो, अचानक चली गोली, मौत

सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करना कितना घातक साबित हो सकता है, इसका उदाहरण महाराष्ट्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *