Breaking News

खण्डवा के इस युवक राही जैन नें खण्डवा का नाम किया रोशन….

एमपी/खण्डवा- हर मां-बाप का अपने बच्चों को लेकर एक सपना होता है और मन ही मन में है यह गीत गुनगुनाते रहते हैं कि मेरा नाम करेगा रोशन जग में मेरा राज दुलारा। खंडवा में राजा ट्रांसपोर्ट संचालन करने वाले सुशील चंद जैन के सुपुत्र राही जैन नें अपनें माता-पिता के मन ही मन गुनगुनाए इस गीत को चरितार्थ कर चुके हैं ।

राही जैन को मानों गोल्ड मैडल लेनें की आदत हो चुकी है। स्कूलिंग खण्डवा से करनें के बाद राही जैन नें इंदौर से मकेनिकल इंजीनियरिंग में यूनिवर्सिटी टाप कर राज्यपाल के हाथों गोल्ड मैडल सहित सम्मान पत्र हासिल किया । इसके बाद कैट में टाप रैंक हासिल कर आईआईएम रायपुर में एमबीए की डिग्री के लिये एडमिशन लिया ।वहाँ भी अपनें टैलेंट,मेहनत,लगन के दम पर फिर यूनिवर्सिटी टाप कर ट्राई के चेयरमैन के हाथों गोल्ड मैडल सहित सम्मान पत्र हासिल किया ।

फाईनैंस से एमबीए में युनिवर्सिटी टाप करनें के फलस्वरूप आईआईसीआई बैंक नें राही जैन को 20 लाख रूपये के पैकेज पर हायर कर मैनेजमैंट की जिम्मेदारी सौंपी है ।आईसीआई मुख्यालय मुंबई में राही जैन अपनी सेवाएं देंगे ।

राही जैन के पिता सुशील चंद्र जैन ने बताया कि,राही बचपन से ही हर काम लगन से किया करता था ।पढाई को लेकर उसका खासा इंटरेस्ट था ।हर क्लास में उसनें टाप किया है। हमें उसपर कभी दबाव नहीं डाला। उसकी जो इच्छा रही उसको करनें दिया।

राही जैन अपनी सफलता के पीछे अपने माता पिता गुरुजनों एवं परिजनों स्नेही मित्रों को सफलता का श्रेय देते हैं ।राही जैन ने बताया कि प्रत्येक युवा को सबसे पहले अपना लक्ष्य चुनना होगा और उसके लिए लगातार सतत, धैर्य रखते हुए कठिन परिश्रम करना होगा । आज युवाओं के सामने रोजगार के लिए बहुत विकल्प हैं,उन्हें इंजीनियरिंग व फाइनेंस में शुरू से ही इंटरेस्ट था इसीलिए उन्होंने दोनों विषयों में डिग्री हासिल की। उन्होंने हमेशा स्लेबस को समझ कर स्टेप बाय स्टेप कवर किया और लगातार प्रैक्टिस करते रहे। वह कार्पोरेट में ऊचाईयाँ हासिल कर देश में रोजगार बड़ाना चाहते हैं ।

राही जैन ने बताया कि खंडवा में उनके सर्कल ने हमेशा उन्हे मोटिवेट एवं सपोर्ट किया । जिसके लिए वह हमेशा खंडवा के कृतज्ञ रहेगा । राही जैन ने बताया कि वह कॉरपोरेट में रहते हुए भले ही दुनिया के किसी भी कोने में रहे,खंडवा हमेशा उसके दिल में रहेगा।वह आने वाले समय में खंडवा के लिए भी कुछ करना चाहता है जिसके लिए वह प्लानिंग बना रहा है ।

राही जैन की सफलता को लेकर उसके माता-पिता परिजन एवं गुरुजन सहित फ्रेंड सर्कल बहुत खुश है एवं उसके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए गर्व से कह रहे हैं कि वह राही जैन के दोस्त हैं ।

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

अधिकारी के घर मिली EVM मशीन, चुनाव आयोग ने की कार्यवाही, जाँच होने तक सस्पेंड

मध्य प्रदेश के गुना से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *