Breaking News

मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने के प्रश्न पर बोले शत्रुघ्‍न सिन्‍हा, ‘मुझे खुशी होती…’

अभिनेता-नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी के इस दावे को खारिज कर दिया कि यह सीट उसका मजबूत गढ़ रही है. सिन्हा ने कहा कि उन्हें इस सीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुकाबला करने में खुशी होगी.

पटना: 

बीजेपी छोड़ कांग्रेस का दामन थामने वाले शत्रुघ्‍न सिन्‍हा (Shatrughan Sinha) ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के खिलाफ चुनाव लड़ने में उन्‍हें खुशी होती. 6 अप्रैल को ही कांग्रेस में शामिल होने वाले शत्रुघ्‍न को कांग्रेस ने पटना साहिब से उम्‍मीदवार बनाया है जहां उनका मुकाबला बीजेपी नेता व कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad)  से है. प्रसाद चार बार से राज्यसभा सदस्य हैं और पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. सिन्हा खुद भी दो बार राज्यसभा में रह चुके हैं और अटल बिहारी वाजपेयी सरकार में मंत्री भी रहे. अभिनेता-नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने बीजेपी के इस दावे को खारिज कर दिया कि यह सीट उसका मजबूत गढ़ रही है. सिन्हा ने कहा कि उन्हें इस सीट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुकाबला करने में खुशी होगी. सिन्हा ने कहा कि ‘भाजपा को मुगालते में रहने दो. पटना साहिब के मतदाता उन्हें सबक सिखा देंगे.’ उन्होंने इस प्रतिष्ठित सीट पर अतीत में कांग्रेस और राजद की जीत का हवाला दिया. वह यहां से तीसरी बार जीत के लिए मशक्कत कर रहे हैं. सिन्हा ने कहा, ‘‘कुछ हलकों में खबर थी कि मोदी वाराणसी के अलावा दूसरी सीट पटना साहिब से मैदान में उतरेंगे. तो क्या हो गया? मुझे इस सीट पर उनसे मुकाबला करने में खुशी होगी.”

इससे पहले 11 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के बाद शत्रुघ्‍न ने बिना नाम लिए मोदी सरकार पर निशाना साधा था. लोकसभा चुनाव के तहत गुरुवार को 20 राज्यों की 91 लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ. कई संसदीय क्षेत्रों की वोटर लिस्ट में गड़बड़ी की शिकायतें सामने आईं. इसी को लेकर शत्रुघ्न सिन्हा ने बगैर नाम लिए बीजेपी पर हमला बोला. उन्होंने पीएम मोदी को ‘सरजी’ से संबोधित करते हुए निशाना साधा. अक्सर शत्रुघ्न सिन्हा ‘सरजी’ कहकर पीएम मोदी की तरफ इशारों ही इशारों में हमले करते रहे हैं. बिहारी बाबू ने ट्वीट कर कहा था – सरजी ये क्या हो रहा है, हर तरफ से रिपोर्ट आ रही है कि इस बार अभूतपूर्व पैमाने पर मतदाताओं के नाम हटा दिए गए हैं, और यह आरोप लगाया जा रहा है कि अधिकांश हटाए गए मतदाता “सरजी” विरोधी मतदाता हैं. क्या ऐसा कुछ भी नहीं होगा कि नागरिक अपने भरोसे को बनाए रख सकें.’

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से कांग्रेस में शामिल हुए शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने NDTV से खास बातचीत में कहा था कि कांग्रेस में शामिल होने से पहले उनके पास कई पार्टियों से ऑफर था. उन्होंने कहा था कि मेरे पास आप, ममता बनर्जी, मायावती, अखिलेश जी की तरफ से पार्टी ज्वाइन करने का ऑफर था. साथ ही लालू जी की फैमिली से भी न्यौता मिला था. लेकिन मैं उनकी पार्टी में नहीं गया. इसकी एक वजह तो यह है कि मैं किसी नेशनल पार्टी से ही जुड़ना चाहता था. बीजेपी छोड़ने को लेकर शत्रुघ्न सिन्हा (Shatrughan Sinha) ने कहा कि मैंने पार्टी छोड़ने से पहले मैं ट्वीट किया था कि अगर आप मुझे हटाते हैं तो न्यूटन का वह लॉ भी याद रखियेगा जिसमें कहा गया है कि हर एक्शन की प्रतिक्रिया होती है. मेरे इस ट्वीट की वजह से ही वह मुझे पार्टी से बाहर नहीं निकाल पाए.

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

TIK-TOK के लिए बना रहे थे विडियो, अचानक चली गोली, मौत

सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करना कितना घातक साबित हो सकता है, इसका उदाहरण महाराष्ट्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *