Breaking News

खंडवा में हवाला के काले धन को मोबाईल फाईनैंस के नाम पर सफेद करनें का खेल का पर्दाफाश? केस दर्ज

मध्यप्रदेश/खण्डवा

मोबाईल व इलेक्ट्रोनिक वस्तुओं पर फाईनैंस के नाम पर हवाला के काले रूपयों को सफेद करनें का खेल लम्बे समय से खेला जा रहा था ? इस खेल में खड़कपुरा स्थित ब्लैक ट्रफ नाम से कपड़े की दुकान की आड़ में गैंग चला रहे खेल के मास्टरमाईंड रज्जाक मेनन पर खण्डवा कोतवाली थानें में प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।पुलिस के अनुसार इस खेल में रज्जाक के अलावा खण्डवा के कुछ मोबाईल दुकानदार,फाईनैंस कम्पनि के कुछ लोग सहित अन्य लोग शामिल हैं।कोतवाली टीआई बीएल मंडलोई नें बताया कि रज्जाक मेनन फरार है लेकिन जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जायेगा,उसके बाद इस मामले में शामिल सभी शामिल लोगों सहित मामले को उजागर किया जा सकेगा.. ।

दरअसल लगभग दर्जनभर फरियादी सहित बजाज फाईनैंस कम्पनि खण्डवा व इंदौर के अधिकारी कोतवाली थानें में पहुँचे व रज्जाक मेनन जो खड़गपुरा में ब्लैक ट्रफ नाम से कपड़े की दुकान पर बैठता है सहित खण्डवा के कुछ मोबाईल व इलैक्ट्रोनिक दुकानदार व अन्य लोगों के विरूद्ध उनके साथ मोबाईल व अन्य इलेक्ट्रोनिक प्रोडक्ट के नाम पर उनसे की गई धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई। फरियादियों नें बताया कि उन्हें माईक्रो लोन के नाम पर रज्जाक मेनन द्वारा उन्हें नकद रूपया देकर उनके कागजों पर हस्ताक्षर करवा उनके दस्तावेज उनसे ले लिये जाते थे।फरियादियों के अनुसार रज्जाक द्वारा लिये गये दस्तावेज व फोटो के माध्यम से खण्डवा के कुछ मोबाईल व इलेक्ट्रोनिक दुकानदारों व बजाज फाईनैंस के कुछ कर्मचारियों द्वारा उन्हें धोखे में रखकर रज्जाक द्वारा दिये गये नकद रूपयों से तीन से चार गुणा राशि का प्रोडक्ट फाईनैंस करा लिया जाता था ओर उनके नाम से लिये गये प्रोडक्ट को वापिस दुकानदारा द्वारा रख लिया जाता था।इतना ही नहीं कागजी कार्यवाही व लोन की प्रक्रिया के नाम पर रज्जाक मेनन द्वारा उनका सिम कार्ड कुछ दिनों के लिये रज्जाक मेनन अपनें पास रख लेता था जिसके माध्यम से उनके नाम से बजाज का क्रेडिट कार्ड भी वह जारी करा लेता था ।फरियादियों नें पुलिस को बताया कि रज्जाक मेनन द्वारा उस जारी कराए गए कार्ड के माध्यम से ऑनलाइन शॉपिंग करके उनके कार्ड का गलत इस्तेमाल भी किया गया फरियादियों को उनके साथ हुई ठगी का पता तब लगा जब उनके घर बजाज फाइनेंस के फोन जाने लगे एवं बैंक की किस्तें बाउंस होने लगी । फरियादियों में एक पीड़ित महिला ने बताया कि उसने रजाक मैनन से मात्र ₹10000 नकद लिए थे जिसके एवज में रज्जाक ने उसके नाम से ₹30000 का फोन एवं फर्जी तरीके से बजाज फाइनेंस का क्रेडिट कार्ड जारी करा ₹80000 की शॉपिंग भी कर ली कुल मिलाकर उस महिला पर बजाज फाइनेंस का ₹100000 से अधिक का लोन चढ़ गया एवं उसकी किश्ते बैंक में आनें लगी। बैंक की किस्तें बाउंस होने के पश्चात बजाज फाइनेंस की रिकवरी टीम ने उनके घर के चक्कर काटने शुरू कर दिए।ठीक इसी तरह की शिकायतें अन्य फरियादियों ने भी कोतवाली टीआई बी एल मंडलोई को की। फरियादियों की शिकायत के बाद कोतवाली थाने में रज्जाक मेनन पर प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया गया ।

खबर की विडियो रिपोर्ट भी देख सकते हैं 

कोतवाली में दर्ज हुए प्रखंड की जानकारी लगने पर रजाक मैनन अंडर ग्राउंड हो गया एवं पुलिस उसकी तलाश कर रही है। रजाक मेनन के करीबी लोगों की बात पर अगर विश्वास किया जाए तो रज्जाक मैनन हवाला के जरिए आने वाले काले रुपयों को इस पूरे खेल के मार्फत सफेद करने में जुटा था । हालांकि इस संबंध में पुलिस का कहना है कि रजाक मेनन के गिरफ्तार होने के पश्चात ही इस संबंध में कुछ कहा जाएगा।

प्रकरण पंजीबद्ध होने के पश्चात रज्जाक मेनन नें मामले को रफा-दफा करने के लिए मिली जानकारी के अनुसार फरियादियों को डराना चमकाना भी शुरू कर दिया है एक फरियादी ने नाम ना छापने की शर्त पर बताया कि उसे रजाक मेनन द्वारा फोन लगा कर धरा गया कि मेरा कोई भी कुछ नहीं बिगाड़ सकता आप इस मामले को वापस ले लो। इसके अलावा रज्जाक मेनन जो इस पूरे मामले का मास्टर माइंड है ने नेताओं को भी मामले को सुलझाने के लिए लगा दिया है एंटी करप्शन की टीम को मिली जानकारी के अनुसार कुछ नहीं था इस मामले को रफा-दफा करने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा रहे हैं ।

वहीं इस मामले में हवाला के जरिए काले धन को सफेद करने की बात को लेकर पुलिस के अलावा अन्य एजेंसी अभी सक्रिय हो गई है एवं रज्जाक मेनन के गिरफ्तार होने के पश्चात वह भी उससे पूछताछ कर सकती हैं।

एंटी करप्शन की टीम की भी इस मामले में पड़ताल जारी है एवं जल्द ही हम इस पूरे खेल में शामिल मोबाइल दुकानदार बजाज फाइनेंस के कुछ कर्मचारी सहित अन्य लोगों का नाम उजागर करेंगे । एंटी करप्शन को मिली जानकारी के अनुसार कुछ मोबाइल दुकानदार जो इस खेल में शामिल है,मार्केट में यह चर्चा करते नजर आ रहे हैं कि इसमें दुकानदार का पुलिस कुछ नहीं कर पाएगी लगता है वह सभी ओवरकॉन्फिडेंस में हैं ?

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

‘कुली नंबर वन’ और ‘हीरो नंबर वन’ तो देखि होगी पर अब नई फ़िल्म आ रही है ‘फेकू नंबर वन’- सिद्धू

सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने तंज किया, “मैंने हीरो नम्बर वन, कुली नम्बर वन और …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *