Breaking News

खण्डवा एसपी की टीम नें पकड़ी घनें जंगल में चल रही अवैध शराब की फैक्ट्री…

खण्डवा


जिले में अवैध शराब पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाने की दिशा में पुलिस अधीक्षक खण्डवा श्री सिद्धार्थ बहुगुणा द्वारा एक और बडी कार्यवाही को अंजाम दिया गया है। दिनांक 10.02.19 को मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस अधीक्षक खण्डवा श्री सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देशन में पुलिस अधीक्षक के क्राईम स्काड एवं थाना मांधाता के बल द्वारा घने जंगलों में महुआ से तैयार की जा रही कच्ची शराब के विरुद्ध बडी कार्यवाही की गयी है।

देखें कैसी होती है शराब की फैक्ट्री

थाना मांधाता के ग्राम धावडिया के पास घने जंगल में नर्मदा सागर बांध के बैक वाटर के पास आरोपियों द्वारा महुए से शराब तैयार करने का कारखाना बना रखा था। उक्त अवैध शराब निर्माण के कारखाने पर क्राईम स्क्वाड एवं थाना मांधाता के पुलिस बल द्वारा दबिश देकर 250 लीटर तैयार हाथ भट्टी महुआ शराब (15 लीटर तेल की केनों में भरी हुई) कीमती 30000/-, ड्रमों में भरा हूआ 1000 लीटर लहान (शराब बनाने के लिये तैयार मिश्रण) कीमती 50000/-, शराब बनाने में उपयोग किये जा रहे प्लास्टिक के पाईप, लोहे के भगोने, लोहे के ड्रम एवं भट्टियां मौके से जप्त की गई तथा मौके पर ही अवैध रुप से कच्ची शराब बनाने वाले आरोपी 1-मुकेश पिता सुखलाला भिलाला 22 साल निवासी देगांवा चौकी पुनासा थाना नर्मदानगर, 2-राजू पिता साहेबा भील 22 साल, 3-दिनेश पिता हब्बू भील 42 साल दोनों निवासी अंजरोद थाना सनावद को घेराबंदी कर पकडा गया तथा उनके कब्जे से 2 मो.सा. कीमती 80000/- रु. तथा लकडी काटने की एक कुल्हाडी जप्त की जाकर थाना मांधाता पर अपराध क्रं. 24/19 धारा 34(2) आबकारी एक्ट का पंजीबद्ध कर अनुसंधान में लिया गया है।

उक्त सम्पूर्ण कार्यवाही में निरी. जे.एस. पाटीदार थाना प्रभारी मांधाता, उनि. अमित कोरी क्राईम स्क्वाड, उनि. ओ.पी.सिंह, उनि. श्यामलाल औछाने, उनि. विनोद नागर, उनि. लीला बघेल, सउनि. नानकराम, सउनि. गणपति चौहान, प्रआर. हुकुम पालीवाल, प्रआर. महेन्द्र यादव, आर. सुनिल सेंगर, अरविंद तोमर, अमर प्रजापत, महेन्द्र वर्मा, आर. जितेन्द्र खाण्डेकर, आर. अभिषेक, सौरभ, प्रिंस, शैलेन्द्र, नीरज, नारायण, अनिल, सुरेन्द्र, जगदीश द्वारा सराहनीय कार्य किया गया।

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

BSP की जगह गलती से दब गया BJP का बटन, पछतावे में आकर काट ली ऊँगली

वोट डालते वक्त उसे चुनाव चिह्न हाथी का बटन दबाना था, लेकिन उसने गलती से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *