Breaking News

पकड़े गये सब इंस्पैक्टर केके अग्रवाल पर गोली चलानें वाले

मध्यप्रदेश/खंडवा-

हरसूद खंडवा रोड पर खेड़ी व रजूर के बीच,बुरहानपुर में अजाक थाने में पदस्थ केके अग्रवाल जो सब इंस्पेक्टर के तौर पर अपनी सेवाएं दे रहे थे,हरसूद से अपने बेटे की शादी के कार्ड बांट कर लौटते समय अज्ञात बाइक सवारों ने उनको गोली मार दी थी,जिसके बाद पीछे से कार में आ रहे दो जागरूक युवकों ने तत्काल गोली कांड में घायल के. के.अग्रवाल को जिला अस्पताल पहुंचाने सहित खंडवा पुलिस को सूचित किया।

पुलिस सब इंस्पेक्टर को गोली लगने की घटना से शहर में सनसनी में पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया। के.के.अग्रवाल खंडवा में एटीएस में भी काम कर चुके हैं एवं उनकी सक्रियता के चलते सिमी के टारगेट पर भी रहे हैं। बुधवारा बाजार में 10 साल पहले भी उन पर सिमी के आरोपी आतंकियों ने गोली चलाई थी जिसमें वह बाल-बाल बच गए थे । हरसूद रोड पर के के अग्रवाल पर फायरिंग की घटना को शुरुआती तौर पर उस से जोड़कर देखा जा रहा था। जिसके चलते के के अग्रवाल पर फायरिंग की घटना आतंकी घटना की ओर इशारा करने लगी थी इस घटना के पश्चात दिल्ली से लेकर भोपाल तक हड़कंप मच गया था। देश की सुरक्षा एजेंसियां इस मामले को लेकर तत्काल हरकत में आ गई थी। दिल्ली तक से बड़े अधिकारियों के फोन खंडवा पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को आने लगे थे ।

घटना की जानकारी लगते ही खंडवा एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एडिशनल एसपी महेंद्र तारनेकर सहित अन्य एजेंसियों के लोग जिला अस्पताल में पहुंचे एवं के के अग्रवाल से घटना के संबंध में विस्तृत चर्चा करने के पश्चात खंडवा एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने एडिशनल एसपी को घटना के संबंध में निर्देशन देते हुए सभी पहलुओं पर काम करने के पश्चात आरोपियों को पकड़ने के निर्देश दिये व आरोपियों को पकड़ने के लिए कई टीम बनाकर जिलेभर में नाकेबंदी करनें के निर्देश दिये। इसके अलावा आसपास के जिलों को भी अलर्ट कर दिया गया था।

के.के.अग्रवाल से मिली जानकारी के आधार पर शुरुआती तौर पर हरसूद के एक गांव से कुछ संदिग्धों को उठाकर उनसे पूछताछ की गई।इसके अलावा कई अन्य टीम अलग अलग दिशा में काम करने के लिए लगाई गई।

सूत्रों के अनुसार हरसूद के एक गांव से उठाए गए संदिग्धों से पुलिस स्टाइल में पूछताछ करने पर उन्होंने अपना गुनाह कबूल करते हुए के.के अग्रवाल पर गोली चलाने की बात कही।केके अग्रवाल के एक महिला से चल रहे संबंध के बाद उपजे विवाद के चलते आरोपियों ने गोली मारने की बात कही।खंडवा पुलिस जल्द ही इस मामले का खुलासा कर सकती है।हरसूद पुलिस ने कुछ लोगों को पुलिस अभिरक्षा में रखने के अलावा गोली कांड में प्रयुक्त हथियार सहित मोटर साइकिल भी अपने कब्जे में ले ली है।

गोली कांड के बाद के के घर वालों से मिलने नेता भी पहुंचे। मिलने वालों में प्रदेश कांग्रेस के सचिव रिंकू सोनकर सहित कई अन्य नेता पहुंचे। पंधाना बीजेपी विधायक राम दांगोड़े भी के.के अग्रवाल से मिलने अस्पताल पहुंचे के.के अग्रवाल से मिलने के पश्चात राम दांगोड़े ने बताया कि जब से प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनी है, बिल में छुपे हुए गुंडे-बदमाश बाहर निकल आए हैं एवं लगातार प्रदेश में अराजकता का माहौल बना हुआ है।आए दिन लूट,हत्या बलात्कार एवं जानलेवा हमले की खबरें प्रदेशभर से आ रही है। उन्होंने कहा कि अब तो अपराधियों के हौसले इतने बुलंद हो गए हैं कि वह पुलिस पर भी हमला करने लगे हैं,उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं,कांग्रेस सरकार आने के पश्चात आरोपी आतंकियों की जमानत के अलावा भोपाल जेल ब्रेक के बाद मारे गए सिमी के आतंकियों की जांच दोबारा कराने के आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि कांग्रेस देशद्रोही ताकतों के साथ खड़ी है ।

केके अग्रवाल के साथ हुए गोलीकांड के बाद खंडवा पुलिस सहित अन्य एजेंसियां तत्काल सक्रिय हुई और खंडवा एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा सहित एडिशनल एसपी महेंद्र तारनेकर खुद मैदान में डटे रहें एवं देर रात तक आरोपियों की धरपकड़ सहित हथियार भी बरामदगी तक टीम को निर्देश देते रहे ।मामले का खुलासा होने के पश्चात ही घर लौटे ।

संभवत है खंडवा पुलिस जल्द ही इस मामले का खुलासा कर सकती है ।

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

TIK-TOK के लिए बना रहे थे विडियो, अचानक चली गोली, मौत

सोशल मीडिया का बेजा इस्तेमाल करना कितना घातक साबित हो सकता है, इसका उदाहरण महाराष्ट्र …

One comment

  1. Avatar

    बस स्टैंड टावर चौक kharkalan mp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *