Breaking News

नरेन्द्र मोदी को मारनें के सपनें देखनें वाले खण्डवा से 2.8 सौ KM दूर के आतंकी को फांसी..

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने वाले लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी अब्दुल नईम उर्फ शेख समीर को शनिवार पश्चिमी बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले की बनगाँव महकमा अदालत ने फांसी की सजा सुनाई। शेख समीर को पिछले मंगलवार को अदालत ने दोषी करार देते हुए फैसला सुरक्षित रख दिया था।मिली जानकारी के अनुसार फांसी की सजा सुनाए जाने के बाद से ही शेख समीर न्यायधीश विनय कुमार पाठक के सामने यह सफाई देता रहा कि उसने पीएम की हत्या की साजिश नहीं रची थी।

समीर को पेट्रापोल सीमा स्थित एक सूने मकान से तीन अन्य लोगों के साथ बीएसएफ की टीम ने गिरफ्तार किया।समीर के साथ जिन अन्य तीन लोगों को पकड़ा गया था,उनके नाम मोहम्मद यूनुस शेख अब्दुल्ला और मुजफ्फर अहमद राठौर हैं।

पकड़े गए चारों आरोपियों के खिलाफ देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने,हथियार जमा करके रखने सहित कई अन्य मामलों में मामला दर्ज किया गया था शेख समीर मूल रूप से महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहने वाला है एवं सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर काम किया है।2005 में समीर सऊदी अरब चला गया था,जहां से वह लश्कर-ए-तैयबा में शामिल होकर पाकिस्तान से आतंकी ट्रेनिंग लेकर भारत में वापस आ गया और देश के अलग-अलग हिस्सों में जाकर देश के विरुद्ध साजिश रचने के लिए नेटवर्क तैयार करनें लगा । समीर उस समय धरा गया जब वह पश्चिमी बंगाल के पेट्रापोल सीमा स्थित अपने तीन साथियों के साथ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मारने की प्लानिंग कर रहा था।

गौरतलब है कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनने के बाद से लगातार आतंकियों के निशाने पर है।देशभर में नरेंद्र मोदी को मारने की साजिश के 6 मामले सामने आ चुके हैं।

नरेंद्र मोदी सरकार बनने के बाद से सरकार में सुरक्षा एजेंसियों को फ्री हैंड दिया हुआ है जिसके चलते सुरक्षा एजेंसियां शानदार काम कर रही हैं। देश के अंदर व बाहर रह कर देश के दुश्मनों पर बारीकी से लगातार नजर रखे हुए हैं । पिछले 4 वर्षों में देश की सुरक्षा एजेंसियां स्लीपर सेल के बहुत बड़े नेक्सस को तोड़ चुकी हैं। इसके अलावा देश के विरुद्ध रची गई सैकड़ों साजिशों को विफल कर चुकी है।इसका प्रमुख कारण पिछले 4 वर्षों में देश सहित राज्यों की सुरक्षा एजेंसियों में तालमेल बनना एवं इनफॉरमेशन शेयरिंग रहा।

About Anoop Kumar Khurana

Anoop Kumar Khurana

Check Also

स्टेडिंग कमेटी की बैठक में मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन की दी जानकारी

खण्डवा 22 फरवरी, 2019 – भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार मतदाता सूची …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *